Close

फिर लग सकता है महंगे पेट्रोल-डीजल का झटका, 7 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंचा कच्चा तेल

भारत के लोगों के एक बार फिर महंगाई का तगड़ा झटका लगने वाला है. पेट्रोल डीजल आने वाले दिनों में और भी महंगा हो सकता है. क्योंकि कच्चे तेल के दाम अंतरराष्ट्रीय बाजार में 7 साल के उच्चतम स्तर पर जा पहुंचा है. कच्चे तेल के दाम 86 डॉलर प्रति बैरल के पार जा पहुंचा है.

और महंगा होगा कच्चा तेल

कच्चे तेल के दामों में आग लगी है. नए वर्ष 2022 में कच्चे तेल के दामों में 10 फीसदी से ज्यादा का उछाल आ चुका है, बीते चार हफ्ते से लागार कच्चे तेल के दामों में तेजी देखी जा रही है. और जानकार मानते हैं कोविड के असर घटने के बाद मांग में तेजी के चलते कच्चे तेल की मांग में जबरदस्त बढ़ोतरी देखने को मिलेगी जिसके चलते कच्चे तेल के दामों में और भी उछाल देखने को मिल सकता है. एक दिसंबर 2021 को कच्चे तेल के दाम 68.87 डॉलर प्रति बैरल था. जो अब 86 डॉलर प्रति बैरल के ऊपर कारोबार कर रहा है. यानि डेढ़ महीने के भीतर कच्चे तेल के दामों में निचले स्तर से 25 फीसदी की तेजी आ चुकी है.

हवाई ईंधन हुआ महंगा

महंगे कच्चे तेल के चलते सरकारी तेल कंपनियों ने हवाई ईंधन के दाम 4.2 फीसदी तक बढ़ा दिए हैं. इस महीने दूसरी बार हवाई ईंधन के दामों में महंगे कच्चे तेल के चलते बढ़ोतरी की गई है. इससे पहले एक जनवरी 2022 को भी एटीएफ के दामों में बढ़ोतरी की गई थी. हवाई ईंधन के दाम 3232.87 रुपये प्रति किलो लीटर बढ़ाया गया है और राजधानी दिल्ली में नई कीमत 79,294.91 रुपये किलो लीटर हो गई है.

पेट्रोल डीजल के दामों में बदलाव नहीं

हालांकि पेट्रोल डीजल के दामों में कोई बदलाव नहीं किया गया है. 4 नवंबर 2021 के बाद से पेट्रोल डीजल के दामों में कोई बदलाव नहीं हुआ है. जबकि कच्चे तेल के दामों में भारी उछाल आ चुका है.

 

यह भी पढ़ें- शेयर बाजार की सपाट ओपनिंग, सेंसेक्स 11 अंक गिरकर 61211 पर, निफ्टी 18200 के पार खुला

0 Comments
scroll to top