Close

यूपी में बीजेपी की जीत ने रचा इतिहास, इंटरनेशनल मीडिया में भी छाए पीएम मोदी और सीएम योगी

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने लगातार दूसरी बार सत्ता हासिल करके इतिहास रच दिया है. इस चुनाव में बीजेपी गठबंधन ने 273 सीटें जीतकर पूर्ण बहुमत हासिल कर लिया है. वहीं, दूसरी सबसे बड़ी पार्टी समाजावादी पार्टी ने 111 सीटें जीती. इस चुनाव में बीजेपी को 41.29 फीसदी वोट हासिल हुए हैं, जबकि समाजवादी पार्टी को 32.03 फीसदी और बहुजन समाज पार्टी को 12.88 फीसदी वोट मिले हैं. वहीं, दूसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने जा रहे योगी आदित्यनाथ गोरखपुर शहर विधानसभा सीट पर करीब एक लाख से ज्यादा वोटों के अंतर से चुनाव जीत गए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में योगी की इस जीत ने इंटरनेशनल मीडिया में भी सुर्खियां बटौरी हैं. जानिए किसने क्या कहा.

पाकिस्तान के द डॉन ने क्या कहा?

द डॉन पाकिस्तान का सबसे बड़ा अंग्रेजी अखबार है. इसमें लिखा गया है, ”भारत  के सबसे बड़े राज्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पार्टी की सबसे बड़ी जीत. इस चुनाव के नतीजे साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव की झलक और नतीजों का अंदाजा देते हैं. हिंदू राष्ट्रवादियों की पार्टी बीजेपी ने 403 सीटों में से आधी सीटों पर कब्जा किया है.”

एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने क्या कहा?

पाकिस्तान के ही अन्य अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म पर लिखा है, ”यूपी भारत का सबसे बड़ा राज्य है. यहां बीजेपी की जीत के बाद साल 2024 में होने वाले आम चुनावों में क्या होने वाला है, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है.”

अल जजीरा ने क्या लिखा?

मध्य पूर्व के सबसे बड़े मीडिया संस्थान अल जजीरा ने लिखा, ”भारत में आबादी के लिहाज से सबसे बड़े राज्य यूपी में बीजेपी फिर से सरकार बनाने में कामयाब रही है. इन नतीजों को साल 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले पीएम मोदी की लोकप्रियता के रूप में देखा जा रहा है. सीएम योगी आदित्यनाथ की कट्टर हिंदुवादी और मुस्लिम विरोधी छवि रही है. उनके शासन में सूबे में लव जिहाद को साजिश बताते हुए इस पर बैन लगाने के लिए कानून भी लाया गया था.”

न्यूयॉर्क टाइम्स ने क्या कहा?

अमेरिका के प्रमुख मीडिया न्यूयॉर्क टाइम्स ने लिखा है, ”पीएम मोदी की पार्टी बीजेपी ने भारत के सबसे बड़ी आबादी वाले राज्य को फिर जीत लिया है. हैरानी की बात यह है कि कोरोना वायरस से देश में आई आर्थिक तंगी के बावजूद लोगों ने भगवा पार्टी के पक्ष में वोट किया.  इन नतीजों से कट्टर हिंदुवादी योगी आदित्यनाथ की छवि को और मजबूती मिली है.”

गल्फ न्यूज ने क्या कहा?

कोरोना और किसान आंदोलन के चलते विपक्षी दल समाजवादी पार्टी के पक्ष में माहौल बनता दिख रहा था, लेकिन यह गलत साबित हुआ. चार राज्यों में पूर्ण बहुमत हासिल करके बीजेपी ने यह साबित कर दिया है कि साल 2014 से शुरू हुई मोदी लहर अभी बरकरार है.”

 

यह भी पढ़ें- एल्यूमीनियम की कीमतें मार्च में बढ़कर ऑलटाइम हाई पर, रूस-यूक्रेन युद्ध के अलावा इस बात का भी है असर

0 Comments
scroll to top