Close

आरबीआई के कार्रवाई के बाद पेटीएम के शेयर में 12 फीसदी की गिरावट, 50,000 करोड़ रुपये के नीचे फिसला मार्केट कैप

पेटीएम के शेयर में गिरावट का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. सोमवार को शेयर बाजार खुलने के बाद पेटीएम के शेयर की जबरदस्त पिटाई हुई है. पेटीएम का शेयर 12 फीसदी नीचे फिसलकर 672 रुपये तक जा लुढ़का जो कि लिस्टिंग के बाद से सबसे सबसे निचला स्तर है. पेटीएम के शेयर का मार्केट कैपिटाईजेशन 50,000 करोड़ रुपये  के नीचे 45,000 करोड़ के करीब आ गया है.

आरबीआई के कार्रवाई के बाद फिसला पेटीएम 

दरअसल शुक्रवार को शेयर बाजार (Stock Exchanges) बंद होने के बाद आरबीआई (RBI) ने आदेश जारी करते हुए पेटीएम पेंमेंट्स बैंक ( Paytm Payments Bank) पर नए ग्राहकों  ( New Customer)को जोड़ने पर रोक लगा दी जिसके चलते पेटीएम के शेयर की पिटाई हुई है. आरबीआई ने आदेश दिया है  पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड अब नए ग्राहकों को आईटी लेखा परीक्षकों की रिपोर्ट की समीक्षा के बाद आरबीआई से अनुमति मिलने पर ही अब नए ग्राहक जोड़ सकेगा.

भारतीय रिज़र्व बैंक ने अपने अधिकारों का प्रयोग करते हुए, बैंकिंग विनियमन अधिनियम, 1949 की धारा 35A के तहत, पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड को तत्काल प्रभाव से, नए ग्राहकों को शामिल करने पर रोक लगाने का निर्देश दिया है. इसके अलावा आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट बैंक को आईटी सिस्टम का व्यापक सिस्टम ऑडिट करने के लिए एक आईटी ऑडिट फर्म भी नियुक्त करने का भी निर्देश दिया गया है. दरअसल आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक के सुपरविजन के दौरान ऐसी बातें पाई है जो जिसे लेकर पर्यवेक्षकों ने चिंता जाहिर की है. जिसे ध्यान में रखते हुए ये पैसला लिया गया है.

कहां तक गिरेगा पेटीएम

स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टिंग के बाद से ही पेटीएम के शेयर में भारी बिकवाली जारी है. पेटीएम के शेयर की स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टिंग हुई है तब से इसके वैल्युएशन में 68 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आ चुकी है. सोमवार शेयर 672 रुपये रुपये तक नीचे जा लुढ़का था. आपको बता दें पेटीएम ने अपना आईपीओ 2150 रुपये प्रति शेयर के रेट पर जारी किया था. आईपीओ के प्राइस से निवेशकों को प्रति शेयर करीब 1450 रुपये का नुकसान हो रहा है. फिलहाल पेटीएम 8.56 फीसदी की गिरावट के साथ 705 रुपये प्रति शेयर पर कारोबार कर रहा है.

मार्केट कैपिटाईजेशन में बड़ी सेंध

पेटीएम जब आईपीओ लेकर आई थी तब उसका मार्केट कैपिटाईजेशन 1,39,000 करोड़ रुपये था जो अब घटकर 45800 करोड़ रुपये पर आ चुका है. यानि 94,000 करोड़ रुपये मार्केट कैपिटाईजेशन घट चुका है. आपको बता दें पेटीएम आईपीओ इतिहास का सबसे बड़ा 18,800 करोड़ रुपये का आईपीओ लेकर आई थी.

 

 

यह भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में नक्सलियों ने किया आईईडी ब्लास्ट, एक अधिकारी शहीद, एक जवान ज़ख्मी

0 Comments
scroll to top