Close

अप्रैल में गिरी, एफएमसीजी, इलेक्ट्रॉनिक्स और वाहनों की बिक्री

कोरोना संक्रमण के दूसरी लहर के बढ़ने के साथ कंज्यूमर डिमांड में तेजी गिरावट देखने को मिल रही है. अप्रैल में ग्रॉसरी, रोजमर्रा  के दूसरे जरूरी सामान, इलेक्ट्रॉनिक्स और गाड़ियों की बिक्री मार्च की तुलना में घट गई है. इकोनॉमिक टाइम्स की एक खबर के मुताबिक 75 लाख रिटेल स्टोर से ट्रांजेक्शन करने वाली विजोम की रिपोर्ट बताती है कि एफएमसीजी मार्केट में 16 फीसदी की गिरावट आई है. रेफ्रिजरेटर, एयर कंडीशनर, टेलीविजन और वाशिंग मशीन की बिक्री 65 फीसदी घट गई है.

वाहनों की  बिक्री में दस फीसदी गिरावट 

वाहनों की बिक्री को भी झटका लगा है. लॉकडाउन और राज्यों में लगाई जाने वाली पाबंदियों की वजह से देश में एक तिहाई से ज्यादा शो-रूम बंद हैं. इस वजह से मार्च की तुलना में अप्रैल में वाहनों की बिक्री दस फीसदी तक घट गई है. मार्च में आर्थिक गतिविधियों के जोर पकड़ते ही ज्यादातर कंपनियों ने बिक्री में दहाई अंक की ग्रोथ दर्ज की थी लेकिन अप्रैल में कोरोना संक्रमण के केस बढ़ते ही बिक्री में काफी गिरावट दर्ज की गई.

कई राज्यों में लॉकडाउन का पड़ रहा है असर 

पिछले कुछ सप्ताहों के दौरान यूपी, महाराष्ट्र, हरियाणा, दिल्ली, कर्नाटक सरकारों  ने लॉकडाउन का ऐलान किया है. इससे दुकानें, स्टोर और दूसरे कारोबारी संगठनों के दफ्तर नहीं खुले. बिक्री में गिरावट लॉकडाउन की वजह से भी रही. इंडस्ट्री विश्लेषकों का कहना है कि लॉकडाउन लगाया जाता रहा तो मांग में निश्चित तौर पर गिरावट देखने को मिलेगी. इनका कहना है कि आने वाले दिनों में मांग की क्या स्थिति रहती है यह कहना मुश्किल है. लिहाजा कंज्यूमर सेंटिमेंट बेहतर होता है या और खराब होता है,  यह कहना मुश्किल है.

 

ये भी पढ़ें – केवाईसी अपडेट न होने पर खाता फ्रीज नहीं कर सकते बैंक, आरबीआई ने कहा- 31 दिसंबर तक है डेडलाइन

0 Comments
scroll to top