Close

रोकी गई अमरनाथ यात्रा, मुंबई के कई इलाकों में बारिश की वजह से बदले गए रूट

जम्मू और कश्मीर की पवित्र अमरनाथ गुफा में बाबा बर्फानी के दर्शन पर भारी बारिश के चलते फिलहाल रोक लगा दी गई है। जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने मीडिया से बातचीत में बताया कि खराब मौसम के चलते बालटाल और पहलगाम में अस्थाई रूप से यात्रा को रोका गया है। बताया गया है कि मौसम साफ होने के बाद ही तीर्थयात्रियों को जाने की इजाजत दी जाएगी। भारी बारिश के चलते जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रा भी रोक दी गई है। आपको बता दें कि भारी बारिश की वजह से अमरनाथ यात्रा के मार्ग अवरुद्ध हो गए हैं, जिसकी वजह से इन इलाकों में लैंड स्लाइड का खतरा बढ़ गया है और बाबा अमरनाथ धाम जा रहे यात्रियों को रोक दिया गया है।

मौसम विभाग के मुताबिक महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई आले कुछ दिनों आसमान से आफत की बारिश होने अनुमान है। मुंबई में आने वाले दिनों में भारी बारिश का अलर्ट है शुक्रवार तक के लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है। आईएमडी ने अपने पूर्वानुमान में बताया कि आने वाले 5 दिनो में मुंबई और ठाणे में भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग की चेतावनी के मद्देनजर मुंबई में इसे आफत से बचने के लिए पहले से ही एनडीआरएफ की टीमें तैनात कर दी गई हैं। सूबे के नए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे एडमिनिस्ट्रेशन को इस मामले में सतर्क रहने को और बचाव के उपायों पर नजर रखने की बात कही है। भारी बारिश की वजह से मुंबई में ट्रैफिक रूटो में बदलाव किया गया है। वहीं पालघर में एक घर के ढहने और घाटकोपर और पंचशील नगर में भारी बारिश की वजह से लैंडस्लाइड हुई है हालांकि इन हादसों में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

सोमवार की रात से मुंबई के इलाकों में लगातार बारिश

इसके पहले सोमवार को मुंबई में जोरदार बारिश हुई थी इस बारिश की वजह से मुंबई के कई इलाकों में जल जमाव हो गया है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक लगभग 12 घंटों तक हुई बारिश हुई कोलाबा ऑब्जर्वेटरी ने बताया मुंबई में 66.4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। वहीं सांताक्रूज में 40.4 मिमी बारिश दर्ज की गई। वहीं ठाणे और नवी मुंबई में भी थोड़ी देर भारी बारिश हुई थी। रात में भी मुंबई के कई इलाकों में बारिश होती रही और जब लोग सुबह सोकर उठे तब कई इलाके जलमग्न हो चुके थे।

नदियों का बढ़ा जलस्तर

सोमवार को महाराष्ट्र की उन नदियों का जो मुंबई को पानी सप्लाई करती हैं का जलस्तर बढ़ गया था। हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से बयान जारी किया गया था जिसमें कहा गया था, मुख्यमंत्री ने रायगढ़ और रत्नागिरी जिलों के जिलाधिकारियों को भी एहतियाती उपाय करने के को कहा है। रत्नागिरी, रायगढ़, चिपलून, नागपुर, रायगढ़ और मुंबई सहित कई इलाकों में एनडीआरएफ की टीमें तैनात कर दीं गई हैं।

जानिए दिल्ली के मौसम का हाल

वहीं राजधानी दिल्ली के मौसम की बात करें तो मंगलवार को दिल्‍ली में औसत दर्जे की बरसात होने की संभावना है। इसके अगले दिन यानि बुधवार से दिल्ली में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया जा चुका है। आईएमडी ने मंगलवार को दिल्ली में बादल छाए रहने का अनुमान है। आईएमडी ने बताया इस राजधानी दिल्ली में मंगलवार को अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस के इर्द-गिर्द रहने की संभावना है। इसके पहले रविवार को दिल्ली के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हुई थी।

असम में हालात सुधार की ओर

वहीं पूर्वोत्तर के असम में बाढ़ की स्थिति में कुछ सुधार हुआ है। सोमवार को असम में बाढ़ से प्रभावित लोगों की संख्या घटकर अब 14 लाख के आस-पास जा पहुंची है। असम में इसके पहले बाढ़ प्रभावित लोगों की संख्या का आंकड़ा 18.35 लाख तक पहुंच गया था। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने एक दैनिक बाढ़ की रिपोर्ट जारी की है जिसके मुताबिक कछार जिले में बाढ़ की वजह से एक शख्स की जान चली गई और एक व्यक्ति लापता है।

इन राज्यों में अगले 4-5 दिनों में भारी बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग की जानकारी के मुताबिक अगले 4 से 5 दिनों में केरल, कर्नाटक, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश तटीय इलाकों में, मध्य महाराष्ट्र, गोवा और कोंकण के अलावा गुजरात में भारी बारिश और वज्रपात की संभावना है। इसके अलावा आईएमडी ने बताया है कि आने वाले 24 घंटों के दौरान दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान राज्यों में बारिश की संभावना है वहीं इन क्षेत्रों में आगामी 3 दिनों तक भारी बारिश का अनुमान है। इन राज्यों में गरज और बिजली गिरने की भी संभावना है।

 

यह भी पढ़ें:- अंडमान और निकोबार में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 4.3 रही तीव्रता

0 Comments
scroll to top