Close

बस्तर संभाग के जिलों के लिए मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में अगले दो दिनों में कई जिलों में भारी बारिश के साथ बिजली भी गिर सकती है। कवर्धा, जशपुर, और सरगुजा के पहाड़ी इलाकों में आम तौर पर इस तरह की घटनाएं अधिक होती हैं। इसलिए मौसम विभाग ने लोगों से सतर्क रहने को कहा है।

दक्षिण छत्तीसगढ़ बारिश के आसार अधिक

9 जुलाई को प्रदेश के लगभग सभी जिलों में बारिश के हालात बन रहे हैं। मौसम विभाग के मुताबिक हल्की से मध्यम वर्षा होने, गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। आगामी दो दिनों में दक्षिण छत्तीसगढ़ यानी की प्रदेश के बस्तर संभाग के जिलों में मैदानी इलाकों के मुकाबले बारिश के आसार अधिक हैं।

 मानसून द्रोणिका की वजह से होगी बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक मानसून द्रोणिका जैसलमेर, कोटा, जबलपुर, पेंड्रा रोड, कलिंग पटनम, उत्तर पश्चिम और उससे लगे पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी से होते हुए पूर्व की ओर होते हुए पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी तक 1.5 किलोमीटर ऊंचाई तक फैल रही है। ओडिशा और आंध्र प्रदेश से लगे प्रदेश के जिलों में इसका असर होगा। इस वजह से बारिश के आसार हैं।

कल ऐसा रहा मौसम का हाल 

प्रदेश की राजधानी रायपुर समेत आस-पास के जिलों में हल्की बारिश हुई। कुरूद में सबसे अधिक 34.8 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा। बीजापुर में 17, गंगालुर में 13, मुंगेली में 7, लाभांडी, दंतेवाड़ा में 6, धरमजयगढ़ में 5, पाटन, पखांजूर गीदम, भोपालपटनम में 4, घरघोड़ा , उसूल, छिंदगढ़, बस्तर में 3, कुरूद अंतागढ़, कसडोल, पंडरिया, सुकमा, करताला, महासमुंद में 2, पिथौरा, खैरागढ़ रायपुर, मगरलोड, पथरिया, बसना, पेंड्रा रोड, राजिम, आरंग, बागबाहरा और कोंडागांव में 1 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई है।

मौसम अलर्ट

 मौसम विभाग की ओर से जारी चेतावनी में कहा गया है कि एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा और ज्यादातर हिस्सों में हल्की बारिश होगी। चेतावनी के तौर पर मौसम विभाग ने कहा है कि एक दो जगह पर गरज चमक के साथ भारी वर्षा और आकाशीय बिजली गिरने की संभावना है।

 

यह भी पढ़ें:- असम के 11 जिले बाढ़ग्रसित, 190 की हो चुकी है मौत

0 Comments
scroll to top