Close

बेरोजगारी को लेकर भाजयुमो की 24 अगस्त को प्रदेश स्तरीय विरोध प्रदर्शन

आगामी 24 अगस्त को भारतीय जनता युवा मोर्चा प्रदेश ( भाजयुमो ) स्तरीय हल्ला बोल एवं मुख्यमंत्री निवास रायपुर घेराव की तैयारी में है, बेरोजगारी के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी 24 अगस्त को शक्ति प्रदर्शन की तैयारी में जोर शोर से जुट गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निवास घेराव की तैयारी को लेकर रविवार को भाजपा के प्रदेश कार्यालय में 6 मोर्चों के प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक हुई। क्षेत्रीय संगठन महामंत्री अजय जामवाल और प्रदेश सह प्रभारी नितिन नबीन की मौजूदगी में सभी मोर्चों को जिम्मेदारी दी गई।

रविवार को भाजपा के प्रदेश कार्यालय एकात्म परिसर में दो पूर्व मंत्रियों व विधायक बृजमोहन अग्रवाल एवं अजय चंद्राकर ने सरकार पर हमला बोला। चंद्राकर ने राज्य सरकार को जनघोषणा पत्र के बिन्दुओं पर बहस की खुली चुनौती दी। उन्होंने कहा, पूरी कैबिनेट और पूरे अफसरों को ले आएं। मैं घोषणा पत्र के हर बिंदू पर चर्चा और बहस को तैयार हूं। चंद्राकर ने कहा, कांग्रेस के घोषणा पत्र में युवाओं के बेरोजगारी भत्ते का वादा था, जो पूरा नहीं हुआ।

पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा, भाजयुमो का आंदोलन कांग्रेस की ताबूत में आखरी कील साबित होगी। छत्तीसगढ़ का युवा अब जाग गया है। युवा तब तक नहीं रूकेगा, जब तक कि इस सरकार को उखाड़कर फेंक नहीं देता। उन्होंने कहा, कांग्रेस ने युवाओं से वादा किया था कि 10 लाख बेरोजगार युवाओं को रोजगार देंगे और 25 सौ रुपए बेरोजगारी भत्ता देंगे। लेकिन न तो रोजगार मिला और न ही बेरोजगारी भत्ता।

प्रदेशभर से एक लाख भाजयुमो कार्यकर्ताओं को लाने का टारगेट

प्रदेश भाजपा 24 अगस्त को मुख्यमंत्री निवास का घेराव करेंगे। इसके लिए हरेक संभाग, जिले, ब्लाक स्तर से कार्यकर्ता राजधानी कूच करेंगे। प्रदेशभर से एक लाख कार्यकर्ताओं को लाने का टारगेट रखा गया है जिसमें दुर्ग संभाग से 20 हजार भाजपा और भाजयुमो कार्यकर्ता प्रदेश सरकार की खिलाफ प्रदर्शन करेंगे कर मुख्यमंत्री निवास घेरेंगे।

 

यह भी पढ़ें:- कुरूद के स्वामी आत्मानंद स्कूल में अव्यवस्था देख भड़के कलेक्टर

0 Comments
scroll to top