Close

बच्चों ने ‘पुलिस मेला रूबरू’ में घातक हथियारों को देखा

बिलासपुर में रविवार को ‘पुलिस मेला रूबरू’ का शुभारंभ रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ हुआ। इसमें स्कूल और कॉलेज की छात्राओं ने मनमोहक प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में ‘हमर सुघर छत्तीसगढ़’ गीत पर छात्राएं जमकर थिरकीं। इस मेले में पुलिस ने AK-47 रायफल, लॉन्चर सहित अन्य आधुनिक हथियारों की प्रदर्शनी लगाई और पुलिस की कार्यप्रणाली से लोगों को रूबरू कराया गया।

मेले में बच्चों के लिए पुलिस के ये आधुनिक हथियार आकर्षण का केंद्र रहे और इसकी जानकारी लेकर पूछताछ भी करते रहे। इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य पुलिस कार्यप्रणाली को करीब से जानने और कम्प्यूनिटी पुलिसिंग में आम लोगों को पुलिस की मदद कर सहयोग करना है।

ला शुरू होने से पहले रविवार की सुबह रिवर व्यू से बाइक रैली निकाली गई। रैली यातायात सुरक्षा का संदेश देती हुई पुलिस मैदान तक पहुंची। यहां पर रैली का समापन हुआ। फिर दोपहर में मेले का आयोजन किया गया, जिसमें बच्चों के आकर्षण के लिए विभिन्न मनोरंजक खेल एवं स्वादिष्ट व्यंजनों के स्टॉल भी लगाए गए। इस अवसर पर विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम नृत्य एवं गायन का आयोजन भी किया गया।

फायर ब्रिगेड व होमगार्ड के भी स्टॉल लगाए

मेले में पुलिस के साथ ही SDRF, CRPF, CAF, फायर ब्रिगेड व होमगार्ड के भी स्टॉल लगाए। यहां पर बल के कार्यों की जानकारी दी गई। इसके अलावा फोरेंसिक के स्टॉल में लोगों को हादसे या अपराध के बाद सबूतों को एकत्र करने के संबंध में बताया गया। नगर सेना और SRDF के जवानों ने आपात स्थिति में किए जाने वाले काम को बताया और आग बुझाने के तरीके भी बताए। साथ ही अपने आधुनिक फायर बिग्रेड और आग लगने पर काबू पाने के तरीके भी प्रदर्शित किए। CRPF के अधिकारी और जवानों ने अपने बल की संरचना, गठन केंद्र, प्रशिक्षण कार्यप्रणाली कोबरा बटालियन और अन्य पुलिसिंग एवं अन्य सामुदायिक पुलिसिंग व हथियारों की जानकारी दी।

स्कूली बच्चों ने कई मॉडल प्रदर्शित किए

मेले में स्कूलों और कालेजों के विद्यार्थियों ने भी अपने-अपने स्कूल के मॉडल प्रस्तुत किए। इसमें एक निजी स्कूल के बच्चों ने ऐसा डिवाइस बनाया है जो नो पार्किंग एरिया में खड़े गाड़ियों को ट्रेस कर लेगा और इसकी जानकारी ट्रैफिक पुलिस के कंट्रोल रूम को देगी। जिससे ट्रैफिक पुलिस उस वाहन को हटवाने के अलावा उस पर चालानी कार्रवाई भी कर सकेगी। इसी तरह RPF ने ड्रोन कैमरा, के अलावा छिपे हुए विस्फोटकों की तलाश के लिए इस्तेमाल होने वाले मशीन वेपर ट्रेसर व कमरों के अंदर की तस्वीर लेने के लिए इस्तेमाल होने वाले रियल टाइम वीविंग मशीन, रिमोट कटर वायर और बड़े रेलवे स्टेशन में एक जगह से दूसरी जगह आने जाने वाले स्कूटर का प्रदर्शन किया।

नुक्कड़ नाटक यमराज व चित्रगुप्त के संवाद का प्रदर्शन किया

कार्यक्रम में नुक्कड़ नाटक यमराज व चित्रगुप्त के संवाद का प्रदर्शन किया गया। इसके साथ ही भारत माता, ड्रीमलैंड स्कूल व डीपी विप्र कॉलेज के एनएसएस में शामिल छात्र-छात्राओं ने मनमोहक नृत्य प्रस्तुतियां दी। ड्रीमलैंड स्कूल की छात्राओं ने जब मानव पिरामिड बनाया तब कार्यक्रम स्थल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज गया। डीपी विप्र कॉलेज की छात्राओं ने लगातार कई फिल्मी गानों पर प्रस्तुति दी।

IG डांगी बोले- मेले से मिलेगा इनोवेटिव आइडिया

मेले का शुभारंभ करते हुए कमिश्नर डॉ. संजय अलंग ने कहा कि जनता के बीच अपनी बातों को रखने के लिए मेला सश्क्त माध्यम है। IG रतनलाल डांगी ने कहा कि यह मेला एक इनोवेटिव आइडिया की तरह है। इससे जनता और पुलिस के बीच तालमेल बढ़ेगा। साथ ही इसके माध्यम से बच्चों के लिए अलग माहौल तैयार करने कोशिश की गई है। इससे लोगों को फायदा मिलेगा। एसपी पारुल माथुर ने कहा कि मेले में मनोरंजन के साथ ही साइबर जागरूकता, महिला सुरक्षा की भी जानकारी दी जा रही है। इसका फायदा लोगों को मिलेगा। इसके अलावा पुलिस लाइन के संसाधनों की प्रदर्शनी लगाई गई है। कार्यक्रम में कलेक्टर सौरभ कुमार, आरपीएफ आइजी एएम सिन्हा, सीआरपीएफ के डीआइजी लक्ष्मीकांत मिश्रा व बिलासपुर यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉक्टर आलोक चक्रवाल भी कार्यक्रम में शामिल हुए।

बनेंगे ड्राइविंग लाइसेंस एक सप्ताह तक 

मेले के साथ ही ड्राइविंग लाइसेंस और वाहनों के इश्योरेंस के लिए मेले में स्टाल लगाया गया है। यहां पर लोगों के ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए आवेदन लिए गए। इसके अलावा इंश्योरेंस का महत्व समझाया गया। यातायात जागरूकता सप्ताह के तहत यह शिविर सात दिनों तक अलग जगहों पर लगाया जाएगा।

बच्चों के लिए शुटिंग गेम और झूला

मेले में बच्चों के लिए शुटिंग गेम और झूले भी थे। ये बच्चों के आकर्षण के केंद्र रहे। इसके अलावा केंद्रीय जेल के आस्था मुंगोड़ी सेंटर, गढ़कलेवा के व्यजंन और खानपान के कई स्टॉल लगाए गए थे। वहीं, एक सेल्फी पाइंट भी बनाया गया। यहां पर पुलिस के कटआउट के साथ लोग सेल्फी लेते रहे।

 

यह भी पढ़ें:-पाकिस्तानी आतंकवादी साजिद मीर को चीन ने बचाया

0 Comments
scroll to top