Close

जुकरबर्ग को मेटावर्स में कदम रखना पड़ा भारी

meta

फेसबुक (अब मेटा) के फाउंडर मार्क जुकरबर्ग को मेटावर्स की दुनिया में कदम रखना महंगा पड़ गया है। अमेरिका की लगभग हर दिग्गज टेक कंपनियों के लिए यह साल मुश्किलों भरा रहा है। इस बीच मेटा प्लेटफॉर्म्स आईएनसी के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर मार्क जुकरबर्ग की संपत्ति लगभग आधी हो गई है। ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के मुताबिक, इस साल मार्क जुकरबर्ग की नेटवर्थ 71 बिलियन डॉलर यानी 5.66 लाख करोड़ रुपए घट गई है। ग्लोबल बिलियनेयर्स की लिस्ट में इस साल मार्क जुकरबर्ग की नेटवर्थ सबसे ज्यादा घटी है।

ग्लोबल बिलियनेयर्स की लिस्ट में 20वें नंबर पर पहुंचे

इतना ही नहीं मार्क जुकरबर्ग 55.9 बिलियन डॉलर यानी 4.45 लाख करोड़ रुपए की नेटवर्थ के साथ ग्लोबल बिलियनेयर्स की लिस्ट में 20वें नंबर पर आ गए हैं। साल 2014 के बाद जुकरबर्ग का यह सबसे निचला स्थान है और वे वाल्टन परिवार के 3 और कोच परिवार के 2 मेंबर्स से भी पिछड़ गए हैं। सितंबर 2021 में जुकरबर्ग की नेटवर्थ 142 बिलियन डॉलर यानी करीब 11.32 लाख करोड़ रुपए पहुंच गई थी। तब उनकी कंपनी मेटा के शेयर भी 382 डॉलर यानी 30,459 रुपए तक पहुंच गए थे। अब मेटा का शेयर 148 डॉलर यानी 11,802 रुपए पर आ गया है।

2 साल पहले 8.45 लाख करोड़ ​​​​​​​रु थी जुकरबर्ग की संपत्ति

2 साल से भी कम समय पहले 38 साल के मार्क जुकरबर्ग की नेटवर्थ 106 बिलियन डॉलर यानी 8.45 लाख करोड़ रुपए थी। तब ग्लोबल बिलियनेयर्स की लिस्ट में सिर्फ जेफ बेजोस और बिल गेट्स ही जुकरबर्ग से आगे थे। सितंबर 2021 में ही जुकरबर्ग ने मेटा की शुरुआत की और फेसबुक (आई एन सी) का नाम बदल कर मेटा प्लेटफॉर्म्स किया था। इसके बाद से ही कंपनी का बुरा दौर शुरू हुआ और तब से अब तक मार्केट में कंपनी का खराब प्रदर्शन लगातार जारी है। मौजूदा दौर में यह यह कंपनी ग्लोबल मार्केट में अपना पैर जमाने के लिए स्ट्रगल करती दिख रही है।

 

यह भी पढ़े:- 208 रन बनाने के बाद भी हारी टीम इंडिया

0 Comments

0 Comments
scroll to top