Close

बालों की सेहत के लिए ठीक नहीं है हेयर कलर, समय से पहले सफेद होने के जानिए कारण

हमें अपने मजबूत, चमकदार और घने, मुलायम बालों पर गर्व होता है. लेकिन समय से पहले कई तरह की समस्याएं देखी जा रही हैं. बदलती और सुस्त लाइफस्टाइल के साथ डाइट प्रमुख जोखिम फैक्टर के रूप में उभर कर सामने आए हैं. बाल गिरना, बालों का सफेद होना इन दिनों एक सामान्य समस्या बन गई है. सफेद बालों को छिपाने के लिए लोग हेयर डाई का इस्तेमाल करने लगते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि सफेद बालों को छिपाने की प्रक्रिया आपके बालों को और भी नुकसान पहुंचा सकती है.

समय से पहले बाल सफेद होने के नुकसान

उम्र से पहले सफेद बाल के कारण को जरूर जानना चाहिए. वक्त से पहले बाल का सफेद होना प्रदूषण और दूसरे हार्मोन असंतुलन के कारण हो सकता है. शुरुआती उम्र में बाल सफेद होने के कारण लोग हेयर कलरिंग करना शुरू करते हैं. लेकिन उनको नहीं मालूम कि बालों को रंगने का ये उपाय लंबे समय तक नहीं चलता. हालांकि, ये प्रक्रिया पूरी तरह से हानिरहति भी नहीं है. इस प्रक्रिया से उन बालों को भी नुकसान पहुंचता है जो अब तक सफेद नहीं हुए हैं. इसलिए आपको जरूर जानना चाहिए कि बालों के सफेद होने का क्या कारण है.

कई कारणों से बदलता है बालों का रंग

जानकारी होने से आप बिना हेयर डाई के इस समस्या का मुकाबला कर सकते हैं. सफेद और भूरे बाल किसी भी उम्र में उगना शुरू हो सकते हैं, और कई अलग-अलग वजहों से हो सकता है. एक रिसर्च में पाया गया कि पोषण की कमी बालों के सफेद होने का कारण बनती है. विटामिन का पर्याप्त सेवन बालों के रंग को वापस ला सकता है. दूसरे कारणों में जेनेटिक है जो बालों का समय से पहले सफेद होने का एक प्रमुख कारण हो सकता है. समय से बालों का रंग बदलना जेनेटिक वजहों से ज्यादातर लोगों में होता है. आज की तनावपूर्ण जिंदगी में भी बाल सफेद होने लगते हैं. तनाव की वजह से मेलेनिन कोशिका को नुकसान पहुंचता है, जो आपके बाल को सफेद कर सकता है.

 

 

यह भी पढ़ें- फेसबुक, WhatsApp और Instagram एक बार फिर हुए डाउन, जानें क्या रही वजह

0 Comments
scroll to top