Close

श्रद्धा हत्याकांड मामला : आफताब के दो कॉमन फ्रेंड ने कपल के रिश्तों को लेकर किए चौंकाने वाले खुलासे

श्रद्धा हत्याकांड मामले में दिल्ली पुलिस की जांच युद्धस्तर पर जारी है। आरोपित आफताब के खिलाफ सबूत जुटाने की कड़ी में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। दिल्ली पुलिस श्रद्धा व आफताब के दो कॉमन दोस्तों तक पहुंच गई है, जिनसे कपल के काफी घनिष्ठ रिश्ते थे।

पुलिस सूत्रों की मानें तो श्रद्धा और आफताब के दोनों दोस्तों ने बताया कि आफताब श्रद्धा को बहुत मारता पीटता था। आफताब ने कई बार श्रद्धा को जान से मारने की धमकी भी दी थी। दोनों के दोस्तों को इस बारे में पता था। श्रद्धा ने कई बार उन्हें इस बारे में बताया था। आफताब के रवैये से श्रद्धा हमेशा दुखी रहती थी।

5 धारदार हथियार भी बरामद

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, आफताब ने दिल्ली पुलिस को बताया है कि उसने कई हथियारों से श्रद्धा के शव के छोटे-छोटे टुकड़े किए थे। दिल्ली पुलिस को 5 धारदार हथियार भी बरामद हुए है, जिन्हें जांच के लिए भेजा गया है। हालांकि, अब तक उस आरी का पता नहीं चल सका है, जिसका आफताब ने दिल्ली पुलिस के सामने जिक्र किया था।

आज भी पॉलीग्राफ टेस्ट होने की संभावना

वहीं, बुधवार से ही आफताब के पॉलीग्राफ टेस्ट की प्रक्रिया जारी है। गुरुवार को टेस्ट के दौरान आफताब की तबीयत खराब हो गई, जिसके कारण टेस्ट पूरा नहीं हो सका। अब आज भी पॉलीग्राफ टेस्ट होने की संभावना है।

अबतक आफताब श्रद्धा के शव के टुकड़ों की जानकारी नहीं दी

आफताब को हिरासत में लिए दो हफ्ते हो चुके हैं, लेकिन अबतक उसने श्रद्धा के शव के टुकड़ों की जानकारी नहीं दी है। साकेत कोर्ट में पेशी के दौरान उसने बताया था कि घटना को हुए काफी वक्त बीत चुका है, इसलिए उसे ठीक से सबकुछ याद नहीं है। ऐसे में दिल्ली पुलिस के लिए श्रद्धा के शव के टुकड़ों की तलाश काफी मुश्किल हो गई है। कुछ हड्डियां जरूर मिली है, लेकिन जांच के बाद ही कुछ भी पता चल सकेगा।

शव के 35 टुकड़े कर दिल्ली के जंगली इलाकों में फेंक दिया

गौरतलब है कि मुंबई की श्रद्धा और आफताब दिल्ली के महरौली में लिव इन में रहते थे। आफताब पर आरोप है कि इसी साल 18 मई को झगड़े के बाद उसने गर्लफ्रेंड श्रद्धा की गला घोंटकर हत्या कर दी और शव के 35 टुकड़े कर दिल्ली के जंगली इलाकों में फेंक दिया। हालांकि, आरोपित आफताब ने अबतक अपना जुर्म नहीं कबूला है। उसने कोर्ट को सिर्फ इतना कहा है कि जो कुछ भी हुआ वो गुस्से में हुआ।

 

 

 

 

यह भी पढ़े :-अशोक गहलोत ने चुनावी समर के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी पर जुबानी हमला बोला

0 Comments
scroll to top