Close

छत्तीसगढ़ में कोरोना के बाद अब ब्लैक फंगल का प्रकोप

रायपुर 12 मई 2021। छत्तीसगढ़ में अभी कोरोना का कहर थमा भी नहीं है कि एक नयी बीमारी ने दस्तक दे दी है। छत्तीसगढ़ में अब कोरोना के बाद ब्लैक फंगल फैल गया है। रायपुर के एम्स में 15 ब्लैक फंगल के मरीज भर्ती कराया गये हैं। रायपुर एम्स के डायरेक्टर डॉ नितिन एम नागरकर ने इस बात की पुष्टि है।

प्रारंभिक जांच में इस बात की जानकारी सामने आयी है कि रायपुर एम्स में भर्ती 15 ब्लैक फंगल के मरीजों में 8 मरीजों की आंखों में फंगल इंफेक्शन है, जबकि बाकी मरीजों के अन्य पार्टों में संक्रमण है, जिनकी की जा रही है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने भी  छत्तीसगढ़ में ब्लैक फंगल मरीजों के मिलने की पुष्टि की है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश में ब्लैक फंगल के मरीजों की जांच की जा रही है ।

पूरे प्रदेश में कोरोना के बाद ब्लैंक फंगल का शिकार हुए मरीजों की संख्या करीब 50 की बतायी जा रही है, जो अलग-अलग जिलों में है। हालांकि पूरी तरह से उन मरीजों की जानकारी सामने नहीं आ पायी है। हालांकि रायपुर एम्स में करीब 15 मरीजों के ब्लैक संक्रमण से प्रभावित होने की स्पष्ट जानकारी आने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हलचल तेज हो गयी है।

एक्सपर्ट बताते हैं कि कोरोना के बाद ब्लैक फंगल के मामले में देश भर में सामने आ रहे हैं। हालांकि ज्यादा केस आंखों से जुड़े हैं। प्रारंभिक चरण में अगर मरीज को डाक्टरी सलाह मिल जाती है तो उससे उबरा जा सकता है। एक्सपर्ट का मानना है कि मरीजों में जरूरत ना होने के बाद भी स्ट्रायाड का इस्तेमाल करना और फिर वैसे कोविड मरीज जिनकी इम्युनिटी पावर बेहद कम है, उनमें ब्लैक फंगल का असर देखा जा रहा है।

 

ये भी पढ़ें – वैक्सीन बाहर भेजने के आरोप पर बीजेपी ने दी सफाई, कहा- भ्रम फैलाने की हो रही कोशिश

0 Comments
scroll to top