Close

अमरनाथ हादसा: रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी सेना, प्रशासन ने जारी किए हेल्पलाइन और टोल फ्री नंबर

अमरनाथ गुफा के पास बादल फटने से हुए दुखद हादसे में 10 लोगों की जान चली गई है जबकि कई लोग लापता बताए जा रहे हैं। इस घटना के बाद प्रशासन ने हेल्प लाइन नंबर जारी किए हैं। इन नंबर्स 01942496240, 01942313149 पर कॉल करके आप यात्रा पर गए अपने परिजनों के बारे में जान सकते हैं।

इसके अलावा श्री अमरनाथ जी यात्रा 2022 पर गए तीर्थयात्रियों के लिए टोल फ्री नंबर भी जारी किए गए हैं-

जम्मू: 18001807198

श्रीनगर: 18001807199

दिल्ली स्थित एनडीआरएफ नंबर:  011-23438252 011-23438253,

कश्मीर डिवीजनल हेल्पलाइन: 0194-2496240,

श्राइन बोर्ड हेल्पलाइन नंबर: 0194-2313149

अचानक बादल फटने से तेज पानी आया

बता दें कि अमरनाथ गुफा के पास आज शाम साढ़े 5 बजे अचानक बादल फटने से तेज पानी आया और गुफा के पास बने टेंट और लंगरों में घुस गया। पानी के तेज बहाव में कई टेंट और लंगर बह गए। इसके साथ-साथ कई लोग भी पानी की चपेट में आ गए। इस घटना के बाद अमरनाथ यात्रा को स्थगित कर दिया गया है और राहत व बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमों को तैनात किया गया है।

इस हादसे पर पीएम मोदी ने दुख जताया है और कहा है कि इस बारे में उन्होंने जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल से बात की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हादसे में प्रभावित सभी नागरिकों को हरसंभव मदद पहुंचाने की बात कही है।

एनडीआरएफ चीफ ने बताया कि, अमरनाथ गुफा की निचली पहुंच में शाम करीब 5.30 बजे बादल फटने की सूचना मिली थी। हमारी 1 टीम गुफा के पास तैनात रहती है, वो टीम तत्काल बचाव कार्य में जुट गई थी। प्राथमिक तौर पर राहत और बचाव कार्य एजेंसियां इसे मध्यम स्तर का हादसा मान रही है। आइटीबीपी की दो कंपनियों के अलावा एनडीआरएफ की भी दो टीमों राहत और बचाव कार्य में तैनात हैं। टेंट के पास बचाव दल की टीमें थीं इसीलिए ज्यादा यात्रियों को बचाया जा सका है।

0 Comments
scroll to top