Close

इंग्लैंड में कराए जा सकते हैं आइपीएल के बचे हुए मैच, सामने आई है ये बड़ी खबर

आइपीएल का 14वां सीजन स्थगित हो जाने के बाद से हर कोई ये जानने के लिए काफी एक्साइटेड है कि इसे अब कब आगे कराया जाएगा. ऐसे में खबर आ रही है कि इस पॉपुलर टूर्नामेंट को इंग्लैड में कराया जा सकता सकता है. आइपीएल के बचे हुए 31 मैचों को कराने के लिए इंग्लिश काउंटी की तरफ से प्रस्ताव दिए जाने की खबर है.

खिलाड़ियों के कोरोना संक्रमित होने के बाद IPL स्थगित कर दिया गया

गौरतलब है कि भारत में खेले जा रहे आइपीएल के नए सीजन को 29 मुकाबलों के बाद स्थगित कर दिया गया था. 4 मई, मंगलवार को आइपीएल गवर्निंग काउंसिल की इमरजेंसी मीटिंग में बीसीसीआइ ने ये फैसला लिया था. दरअसल टीम बबल के अंदर खिलाड़ियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जान के बाद बोर्ड द्वारा आईपीएल के बचे हुए मुकाबलों को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया.

इंग्लिश काउंट के ग्रुप ने आइपीएल आयोजित करने के में दिखाई है रुचि

वहीं एक रिपोर्ट की मानें तो इंग्लिश काउंटी के एक ग्रुप ने इस साल सितंबर में आईपीएल 2021 के शेष सत्र होस्ट करने में रुचि दिखाई है. ESPNcricinfo की रिपोर्ट के मुताबिक एमसीसी, सर्रे, वार्विकशायर और लंकशायर ने ईसीबी को एक लेटर भेजा है. इस लेटर में इस साल सितंबर के दूसरे सप्ताह में बचे हुए मुकाबलों को कराए जाने की योजना भेजी गई है.

यह समझा जा रहा है कि अगर प्रस्ताव स्वीकार कर लिया जाता है तो लंकाशायर के अमीरात ओल्ड ट्रैफर्ड (मैनचेस्टर में) के घर का उपयोग टूर्नामेंट के लिए किया जा सकता है, हालांकि लंकाशायर ने स्पष्ट किया है कि उन्हें पत्र के बारे में पता था लेकिन वे हस्ताक्षरकर्ता नहीं थे. वहीं कहा जा रहा है कि इंग्लैंड में आईपीएल का आयोजन कराए जान से टी20 वर्ल्ड कप के लिए यूएई की पिचें फ्रेश रहेंगी. अगर कोविड-19 की वजह से टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन भारत में नहीं हुआ तो फिर इसे यूएई में कराया जा सकता है और ये काफी अच्छा मूव रहेगा.

आइसीसी वर्ल्ड कप से पहले आयोजित हो सकता है IPL

बता दें कि इंडियन टीम इस साल इंग्लैंड के दौरे पर भी जाएगी. अगस्त से सितंबर के बीच टीम इंडिया द्वारा इंग्लैंड के खिलाफ उसके घर में 5 टेस्ट मैच खेले जाएंगे. ऐसे मे कयास लगाए जा रहे है कि इसके बाद आइसीसी वर्ल्ड कप से पहले इंडियन टीम के पास वक्त होगा और उस दौरान आइपीएल के बचे हुए मैच आयोजित कराए जा सकते हैं.

 

ये भी पढ़ें – कोरोना से लड़ाई में भारत की ओर बढ़े विदेशी हाथ, जानिए किन-किन देशों से पहुंच रही मदद

0 Comments
scroll to top